Categories
सेहत

Benefits of Blood donation – जानें रक्त दान क्यों है फायदेमंद

Benefits of Blood Donation – Donate Blood and save life

Advertisements

रक्त दान करें, जीवन दान करें

प्रत्येक वर्ष 14 जून को विश्व के सभी देशों में विश्व रक्त दाता दिवस के रुप में मनाया जाता है । सर्व प्रथम सन् 2000 में World Health Day की स्थापना की गई इसके सफल होने के उपारांत 14 जून 2004 को पहली बार World Blood Doner Day मनाया गया था तब तक इस दिवस की स्थापना नहीं की गयी थी । इसके बाद वर्ष 2005 में World Health Assembly के द्वारा यह घोषित किया गया कि प्रत्येक वर्ष 14 JUN को World Blood Doner Day के रुप में मनाया जायेगा और तब से विश्व के लगभग सभी देशों में प्रत्येक वर्ष के 14 Jun को World Health Doner Day (विश्व रक्तदाता दिवस) के रुप में मनाया जाताहै

Why donate Blood ?- क्यों करना चाहिए रक्त दान ?

Advertisements

जैसा कि हम जानते हैं कि blood हमारे मानव जीवन के लिए अत्यंत ही आवश्यक है, जो कि हमारे शरीर को मजबूती प्रदान करता है एवं इसके अंदर शरीर को बीमारियों से बचाने वाले गुण भी मौजूद होते हैं। किसी के शरीर का रक्त की शुद्धता ही उसके स्वस्थ शरीर की अदभुत ईकाई है।

हमारे शरीर के अंदर मौजूद रक्त का रंग लाल होता है, जिसकी वजह है Hemoglobin. एक स्वस्थ व्यक्ति के रक्त में Hemoglobin की मात्रा 12.5g/dl से कम नहीं होना चाहिए। Blood में blood cells होते हैं, जिनका निर्माण जिन्हें Red blood cells, Whit blood cells एवं Platelets (रक्त प्लाजमा) कहते हैं। इन blood cells का निर्माण Bone marrow (अस्थि मज्जा) में होता है इन cells का जीवन काल कुछ घंटों से लेकर कुछ दिनों का होता है। ये blood cells एवं Platelets स्वतः निर्मित एवं नष्ट होते रहते हैं। इनका जीवन काल समय इस प्रकार है।

  • White Blood Cells – कुछ घंटो से लेकर एक-दो दिन तक
  • Platelets – अधिकतम 10 दिनों तक
  • Red blood cells – अधिकतम 120 दिनों तक

उपर दिये गये समय अंतराल के बाद शरीर की रक्त कौशिकायें (blood cells) स्वतः नष्ट होकर पुनः नव निर्मित होने लग जाती हैं। नव निर्मित blood cells हमेशा ही आपके पुराने blood cells से अच्छी होती हैं क्योंकि इनमें प्रतिरोधक क्षमता अधिक होती है जो शरीर के अंदर रोगोंं से लड़ने की क्षमता को बढाता है। एक बात आपको याद रखनी है कि, blood donate करने के 48 घंटा बाद आपके रक्त में नये blood cells स्वतः बनना शुरु हो जाते हैं, इस प्रकार आप पायेंगे कि निरंतर रक्तदान करने वाले लोग कम रक्त दान करने वालों की तुलना में अधिक स्वस्थ एवं रोगमुक्त होते हैं। आपके द्वारा किया गया रक्त दान हो सकता है, किसी व्यक्ति की जान बचा सके या फिर उसे नवजीवन दे सके। अतः रक्तदान जीवन दान कहा गया है।

Advertisements

Benefits of Blood donation – रक्तदान के फायदे

रक्त दान ऐसा महादान है, जीससे की दाता और ग्राही दोनों को लाभ है। रक्त दान कर आप किसी व्यक्ति की मदद कर जान भी बचा सकते हैं या फिर उसे नवजीवन प्रदान कर यश कि भागी बन सकते हैं। एक मनुष्य अगर किसी दूसरे मनुष्य को नवजीवन दे तो उससे बड़ा उसके लिए सौभाग्य और भला क्या हो सकता है ! इसके साथ ही रक्त दान करने से ये निम्नलिखित फायदे भी होते हैं

  • रक्त दान शरीर से रक्त के अंदर नये Red blood cells विकसित होते हैं – रक्तदान के 48 घंटा पाश्चात नये रक्त कोशिकायें (blood cells) बनना शुरू हो जाती हैं।
  • रक्तदान हृदय की बीमारियों में कमी करता है – जब रक्त के अंदर लौह तत्व (iron) की मात्रा ज्यादा हो जाता है तो heart disease की संभावन ज्यादा बढ़ जाती है । यूँ तो Blood के लिए आयरन फायदे मंद है, लेकिन अगर iron की मात्रा जरुरत से ज्यादा हो जाये तो वह heart disease को बढ़ावा देने लग जाता है। रक्त दान करने से रक्त के अंदर लौह तत्व (iron) का संतुलन बना रहता है जो कि heart disease को कम करने में सहायक होता है।
  • रक्तदान मानसिक तनाव को कम करता है
  • रक्तदान आपके मनोभाव को अच्छा बनाता है।
  • रक्तदान आपके मन के अंदर के नाकारात्मक भाव (negative feelings) को खत्म करता है।
  • रक्तदान आपनापन की भावना पैदा करता है और अलगाववाद को समाप्त करता है।

Free health check-up

जब भी कोई व्यक्ति blood donate (रक्तदान) के लिए जाता है तो सबसे पहले कुछ formalities को पूरा करना अनिवार्य होता है, जीसमें की Doner(रक्त दाता) के द्वारा कुछ फॉर्म भरना होता है, उसके बाद Doner यानी रक्तदाता का health checkup किया जाता है जो कि निम्नलिखित है।

  • Pulse checkup
  • Blood pressure checkup
  • Body temperature checkup
  • Hemoglobin checkup

इन सभी जाँचों में सही पाये जाने के बाद वयक्ति विशेष का फीर blood संबंधित कुछ जाँच किये जाते हैं ताकि ये पता चल सके कि अमुक व्यक्ति का रक्त किसी दूसरे व्यक्ति के काम आ सकता है या नहीं यानी की अमुक व्यक्ति का रक्त सही है या फिर किसी संक्रमण से ग्रसित तो नहीं है न। इसके लिए Doner का फ्री मे निम्नलिखित blood tests किये जाते हैं।

  • hepatitis B
  • hepatitis C
  • HIV test
  • West Nile Virus
  • Sypgillis
  • Trypanosoma Cruzi

Before donate blood You must know – रक्तदान से पहले ये जानें

Advertisements

रक्तदान से पहले कुछ शर्तें होती हैं जिनको पूरा करने के बाद ही व्यक्ति रक्तदान कर सकता है। जीसमें कुछ सबसे महत्वपूर्ण ये हैं:-

  • Blood Doner यानी की रक्तदाता की उम्र 17 वर्ष से 60 वर्ष के बीच ही होनी चाहिए। (मगर कभी-कभी विशेष परिस्थिति में 16 वर्ष का व्यक्ति सशर्त रक्तदान कर सकता है)
  • रक्तदाता का वजन 45 kg से कम नहीं होना चाहिए।
  • अगर पूर्व में रक्तदान कर चुके हैं तो दूबारा करने के लिए कम से कम 3 माह का अतंराल हो।
  • Doner का Hemoglobin 12.5g/dl से कम नहीं होना चाहिए।
  • शरीर का तापमान समान्य होना चाहिए।
  • रक्तदान से पहले बहुत सारा पानी पीयें।
  • रक्तदान से पहले एवं रक्तदान के बाद भी कम वसा युक्त विटामिन से भरपूर भोजन करना चाहिए।

hindibits
Author: hindibits

Advertisements

Leave your comment